Patna SSP : पटना SSP के बयान पर मचा बवाल PFI से RSS की तुलना से बढ़ा विवाद
Patna SSP : पटना SSP के बयान पर मचा बवाल PFI से RSS की तुलना से बढ़ा विवाद

 

पटना(Patna SSP): बिहार पुलिस ने संदिग्ध आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. चरमपंथी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) से जुड़े तीन लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इस मामले की जानकारी देने के लिए आयोजित किए गए प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो (Patna SSP) ने आरएसएस की तुलना पीएफआई से कर दी. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह आरएसएस की शाखा में शारीरिक प्रशिक्षण दिया जाता है, वैसे ही पीएफआई में भी फीजिकल ट्रेनिंग दी जा रही थी.’

Twitter

बिहार में पुलिस (Bihar Police) ने एक संदिग्ध आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ करने का दावा किया. जिसमें विवादित संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़े तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पटना पुलिस की तरफ से दी गई जानकारी में बताया गया कि, ये लोग पिछले दो साल से ट्रेनिंग ले रहे थे और बाकी लोगों को भी ट्रेन किया जा रहा था. यहां तक दावा किया गया कि इन लोगों की साजिश भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की थी. साथ ही पीएम मोदी (PM Modi) भी निशाने पर थे.

इधर बीजेपी ने एसएसपी (Patna SSP) के इस बयान के बाद हमला तेज कर दिया है. बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने कहा कि ये बयान एसएसपी के मानसिक दिवालियापन को दिखाता है. उन्होंने एसएसपी से मांफी की मांग की है, नहीं तो सरकार की तरफ से कार्रवाई की बात कही है.

पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो (Patna SSP) ने बताया कि ये सभी भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने की कार्ययोजना पर भी काम कर रहे थे. इनके पास से कई आपत्तिजनक दस्तावेज मिले हैं.

हालांकि इस पूरे मामले को लेकर पुलिस के आरोपों को परिवार ने झूठा बताया है. पटना से गिरफ्तार हुए मोहम्मद जलालुद्दीन के बेटे ने कहा कि, मेरे पिता एएसआई के पद से रिटायर हुए हैं और उन्होंने 40 साल तक इस देश की सेवा की है. जिसने इतने साल देश की सेवा में लगाए हैं, वो ऐसा नहीं कर सकता है, उन्हें फंसाया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here