March 3, 2024

The Press Note

A News Blog

Mowa Land Dispute अदालत ने कांग्रेस नेता की जमीन रजिस्ट्री शून्य घोषित की

1 min read
Mowa Land Dispute अदालत ने कांग्रेस नेता की जमीन रजिस्ट्री शून्य घोषित की

Mowa Land Dispute अदालत ने कांग्रेस नेता की जमीन रजिस्ट्री शून्य घोषित की

Mowa Land Dispute अदालत ने किया पूर्व कांग्रेस ग्रामीण जिलाध्यक्ष के नाम की जमीन रजिस्ट्री को शून्य घोषित

 

Mowa Land Dispute: शुक्रवार को मोवा जमीन विवाद मामले में न्यायालय ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। इस मामले में युवा कांग्रेस के पूर्व ग्रामीण जिलाध्यक्ष आसिफ मेमन ने नूर बेगम की मोवा स्थित जमीन को अपने नाम से रजिस्ट्री करवाई थी, जिसे न्यायालय ने शून्य घोषित किया है।

Covid कोरोना पर नजर रखते हुए कलेक्टर ने जिला अस्पताल का किया निरीक्षण, जारी किए निर्देश

Mowa Land Dispute: कांग्रेस नेता आसिफ मेमन की जमीन की रजिस्ट्री पर आये विवाद को न्यायालय ने आज अंत में समाप्ति दी।कांग्रेस नेता आसिफ मेमन ने नूर बेगम से इस जमीन का सौदा 3 करोड़ 9 लाख 76 हजार में किया और इसके एवज में रजिस्ट्री करवाते समय 7 चेक दिया था।यह निर्णय उस समय की मांग थी, जब ये चेक बिना किसी स्पष्ट कारण के क्लियर नहीं हुए थे।

न्यायालय ने आसिफ मेमन की रजिस्ट्री को शून्य कर दिया है, जिससे यह जमीन अब नूर बेगम के नाम पर रहेगी। यह फैसला समाज में विवादों को और बढ़ा सकता है, लेकिन न्याय की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है।

कांग्रेस नेता आसिफ मेमन के खिलाफ चल रहे मोवा जमीन विवाद (Mowa Land Dispute)मामले में न्यायालय ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। जमीन की रजिस्ट्री को शून्य घोषित करते हुए न्यायालय ने मेमन के खिलाफ धोखाधड़ी के मामले में पुलिस को एफआईआर करने का आदेश भी जारी किया है। मेमन के खिलाफ पुलिस द्वारा धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है और उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की जा रही है। न्यायालय ने इस मामले में न्याय के लिए सही निर्णय देने के लिए सक्रिय भूमिका निभाई है।

Mowa Land Dispute अदालत ने कांग्रेस नेता की जमीन रजिस्ट्री शून्य घोषित की
Mowa Land Dispute अदालत ने कांग्रेस नेता की जमीन रजिस्ट्री शून्य घोषित की

Mowa Land Dispute : जमीन की रजिस्ट्री पर हुई धोखाधड़ी के मामले में न्यायालय ने नामांकन रद्द करते हुए मेमन के खिलाफ सख्त कदम उठाये हैं। इस मामले(Mowa Land Dispute) में उनकी खिलाफत में एफआईआर की प्रक्रिया शुरू की गई है जोकि उनके खिलाफ सुनिश्चित कानूनी कदमों को निर्माण कर रही है। इसके अलावा, नूर बेगम ने अपनी सुरक्षा के लिए पुलिस को शिकायत दर्ज कराई है और मेमन के खिलाफ स्थायी गिरफ्तारी वारंट भी जारी किया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *