Indian Railway: कोरोना काल मॆ ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाएगी रेलवे
Indian Railway: कोरोना काल मॆ ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाएगी रेलवे

Indian Railways का बड़ा फैसला ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए चलाई जाएंगी स्पेशल ट्रेन.

 

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच Indian Railway ने लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन LMO) और ऑक्सीजन सिलेंडरों को ले जाने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस (OXYGEN Express) चलाने की योजना बनाई है। इन ट्रेनों को निर्बाध गति से चलाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाए जा रहे हैं।

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा कि रेलवे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कोई कसर नहीं छोड़ेगा. हम ग्रीन कोरिडोर बनाकर ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें चलाएंगे, ताकि मरीजों को पर्याप्त मात्रा में तेजी से ऑक्सीजन मिल सके. ऑक्सीजन ट्रेनों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन और ऑक्सीजन सिलेंडर्स ले जाए जाएंगे.

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश सबसे प्रभावित राज्यों में शामिल हैं. इन दोनों राज्यों की सरकारों ने ही रेलवे मंत्रालय से अपील की थी कि क्या लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंकर्स रेलवे द्वारा ले जाए जा सकते हैं? जिसके बाद रेलमंत्री पीयूष गोयल का उक्त ऐलान सामने आया है.

पीयूष गोयल ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि सरकार ट्रेनों में आइसोलेशन वार्ड बढ़ाने की दिशा में भी काम कर रही है. राज्यों की मांग के अनुसार, 3 लाख से ज्यादा बेड ट्रेनों में बनाए जा सकते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि शकूर बस्ती स्टेशन पर 50 कोच और 800 बेड तैयार हैं. साथ ही आनंद विहार स्टेशन पर भी 25 कोच तैयार किए जा रहे हैं.

बता दें कि देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. देश में 2.61 नए केस मिले हैं, जिसके बाद कोरोना मरीजों का कुल आंकड़ा बढ़कर एक करोड़ 47 लाख के पार पहुंच गया है. यह एक दिन में कोरोना के मामलों में सबसे बड़ा उछाल है.

रेल मंत्रालय की ओर से एक तस्वीर सामने आई है जिसमें ऑक्सीजन वाले एक टैंकर को ट्रेन पर लादा गया है। ऐसे ही एक साथ कई टैंकरों को लादकर भेजा जाएगा। रेलवे ने ग्रीन कॉरिडोर बनाया है ऐसे में यह ट्रेनें बिना किसी विलंब के अपने निर्धारित स्टेशन तक पहुंचेंगी। रेलवे ने कहा कि महाराष्ट्र से सोमवार को खाली ट्रैंकर रेल के जरिए अपनी यात्रा शुरू करेंगे और फिर वो विजाग, जमशेदपुर, राउरकेला और बोकारो से ऑक्सीजन लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here