Cyber Attack : अमेरिका की कोलोनियल पाइपलाइन कंपनी पर साइबर अटैक भारत में बढ़ सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें

0
62
Cyber Attack अमेरिका की कोलोनियल पाइपलाइन कंपनी पर साइबर अटैक भारत में बढ़ सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें
Cyber Attack अमेरिका की कोलोनियल पाइपलाइन कंपनी पर साइबर अटैक भारत में बढ़ सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें

Cyber Attack:US में अब तक का सबसे बड़ा रैनसमवेयर हमले के बाद अमेरिका की बड़ी पाइपलाइन का परिचालन रुका.

एजेंसी| अमेरिका की सबसे बड़ी फ्यूल पाइपलाइन पर साइबर अटैक (Cyber Attack) हमले से दुनियाभर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में तेजी आ सकती है। भारत भी इससे अछूता नहीं है. जानते हैं भारत पर इसका क्या असर हो सकता है.अमेरिका  की सबसे बड़ी तेल पाइपलाइन पर हुए अब तक के सबसे बड़े साइबर अटैक (Cyber Attack) के बाद बाइडेन प्रशासन ने आपातकाल की घोषणा कर दी है. ऐसा पहली बार है जब किसी देश ने साइबर अटैक के कारण आपातकाल लगाया है.

Murder Case: अभिषेक मिश्रा हत्याकांड पर कोर्ट ने सुनाया फैसला दो को उम्र कैद, मुख्य आरोपी बरी.

NASA Ingenuity हेलीकॉप्टर : NASA ने मंगल ग्रह पर हेलीकॉप्टर जैसी आवाज रिकॉर्ड की.

विशेषज्ञों का कहना है कि हमले से गैसोलिन की आपूर्ति और कीमतों पर प्रभाव पड़ने की आशंका तब तक कम है, जब तक कि इसके कारण पाइपलाइन को बहुत लंबे समय तक बंद न रखना पड़े। रैनसमवेयर साइबर अटैक (Cyber Attack) हमला ऐसा मालवेयर होता है जो किसी कंप्यूटर सिस्टम को ब्लॉक कर देता है और उसका डेटा वापस करने या कंप्यूटर को फिर से खोल सकने के लिए फिरौती की मांग करता है। आपराधिक हैकर ऐसे साइबर हमलों को अंजाम देते हैं। कोलोनियल पाइपलाइन कंपनी ने यह नहीं बताया कि किस चीज की मांग की गई और किसने मांग की है।

साइबर अटैक (Cyber Attack) हमले से दुनियाभर में पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ सकती                        विशेषज्ञों का कहना है कि इससे तेल की कीमतों में 2 से 3 फीसदी तेजी आ सकती है। अगर इसमें ज्यादा समय लगता है तो स्थिति और बदतर हो सकती है। इंडिपेंडेंट ऑयल मार्केट एनालिस्ट गौरव शर्मा के मुताबिक टैक्सस की रिफाइनरियों में बड़ी मात्रा में तेल फंसा हुआ है। उन्होंने कहा कि अगर मंगलवार तक स्थिति सामान्य नहीं हुई तो बड़ा संकट पैदा हो सकता है। माना जा रहा है कि इस घटना का असर भारत पर भी होगा और पेट्रोल-डीजल की कीमत के साथ-साथ गैस की कीमत में उछाल आ सकती है।

अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी दावा किया जा रहा है कि इस साइबर अटैक (Cyber Attack) के कारण सोमवार को तेल की कीमतें 2-3 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगी. ये भी कहा जा रहा है कि अगर इसे जल्दी बहाल नहीं किया गया तो इसका असर और व्यापक हो सकता है. एक्सपर्ट्स के अनुसार, ये हमला कोरोना महामारी के कारण हुआ है क्योंकि इस समय अधिकतर इंजीनियर्स घर से कंप्यूटर पर काम कर रहे हैं.

 

THE PRESS NOTE

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here