March 1, 2024

The Press Note

A News Blog

Bharat Jodo Nyay Yatra रविवार दोपहर 12 बजे से खोंगजोम युद्ध स्मारक से शुरू होगी

1 min read
Bharat Jodo Nyay Yatra रविवार दोपहर 12 बजे से खोंगजोम युद्ध स्मारक से शुरू होगी

Bharat Jodo Nyay Yatra रविवार दोपहर 12 बजे से खोंगजोम युद्ध स्मारक से शुरू होगी

Bharat Jodo Nyay Yatra कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रविवार (14 जनवरी) को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की शुरुआत करने का ऐलान किया है।

Bharat Jodo Nyay Yatra कांग्रेस सांसद Rahul Gandhi ने रविवार (14 जनवरी) को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की शुरुआत करने का ऐलान किया है। इस यात्रा की शुरुआत मणिपुर के थौबल जिले से होगी और इसका मुक़ाम मुंबई होगा। राहुल गांधी इस यात्रा में 6000 किलोमीटर से ज्यादा का सफर करेंगे, और यह यात्रा दो महीने तक चलेगी।

Google Android Users के लिए बुरी खबर हटने वाला है 20 फीचर

राहुल गांधी 14 जनवरी को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की शुरुआत करेंगे, जो Manipur के थौबल जिले से शुरू होकर मुंबई तक जाएगी। इस पैदल यात्रा में राहुल गांधी ने 6000 किलोमीटर से ज्यादा का सफर करने का निर्णय लिया है। यह यात्रा दो महीने तक चलेगी और इसमें 60 से 70 यात्रीयाँ शामिल होंगी। यात्रा का आयोजन मणिपुर के खोंगजोम युद्ध स्मारक से होगा, जो दोपहर 12 बजे में होगा। यह यात्रा मुंबई में समाप्त होगी।

Bharat Jodo Nyay Yatra रविवार दोपहर 12 बजे से खोंगजोम युद्ध स्मारक से शुरू होगी
Bharat Jodo Nyay Yatra रविवार दोपहर 12 बजे से खोंगजोम युद्ध स्मारक से शुरू होगी
राहुल गांधी ने रविवार (14 जनवरी) को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की शुरुआत के लिए दिल्ली से मणिपुर की ओर कदम बढ़ाया। इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य विभिन्न राज्यों में हो रही किसान आंदोलनों का समर्थन करना है। यात्रा के दौरान राहुल गांधी गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल, ओड़ीशा, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गोवा, और गुजरात के जयपुर तक कई राज्यों का चक्कर लगाएंगे। यह यात्रा उम्मीद है कि वह किसानों के मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करेगी और उनकी मांगों को लेकर सरकार से मिलेगी।

मणिपुर सरकार ने 14 जनवरी को थौबल जिले से कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के संबंध में कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है, और इसके साथ ही घोषणा की है कि इस कार्यक्रम का अधिकतम समय एक घंटा होना चाहिए और इसमें भाग लेने वालों की अधिकतम संख्या 3,000 होनी चाहिए। इस निर्णय के पूर्व में, थौबल के उपायुक्त ने 11 जनवरी को इस कार्यक्रम के लिए अनुमति प्रदान करने का आदेश जारी किया था, जिसे पार्टी ने यात्रा से एक दिन पहले साझा किया।

Bharat Jodo Nyay Yatra यात्रा के मार्ग में कोई बदलाव नहीं हुआ है। हालांकि, इसका आरंभिक बिंदु बदल दिया गया है। भारत जोड़ो न्याय यात्रा 67 दिनों तक चलेगी। इस अवधि में कुल 6,713 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए, यात्रा 20 मार्च को मुंबई में समाप्त होगी। इस दौरान यह 15 राज्यों के 110 जिलों को कवर करेगी।

Congress महासचिव Jairam Ramesh ने कहा, “यह यात्रा पिछले 10 सालों में हुए राजनीतिक, आर्थिक, और सामाजिक अन्याय के खिलाफ की जा रही है।” उन्होंने यह भी कहा, “प्रधानमंत्री ‘अमृतकाल’ के सुनहरे सपने दिखाते हैं, लेकिन पिछले 10 सालों का असलीत ‘अन्याय काल’ है। इस अन्याय काल का कोई जिक्र नहीं होता।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *