March 4, 2024

The Press Note

A News Blog

Badruddin Ajmal कांग्रेस के लिए मुस्लिम सिर्फ वोट बैंक, बदरुद्दीन अजमल

1 min read
Badruddin Ajmal कांग्रेस के लिए मुस्लिम सिर्फ वोट बैंक, बदरुद्दीन अजमल

Badruddin Ajmal कांग्रेस के लिए मुस्लिम सिर्फ वोट बैंक, बदरुद्दीन अजमल

Badruddin Ajmal ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल ने कहा है कि कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ से कोई फायदा नहीं होने वाला है।

Badruddin Ajmal ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल ने कहा है कि कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ से कोई फायदा नहीं होने वाला है। उनके अनुसार, कांग्रेस मुसलमानों को सिर्फ वोट बैंक के रूप में देखती है। उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की, लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें वोट नहीं मिला। इस बार भी उनके अनुसार, राहुल गांधी को वोट नहीं मिलने वाला है। अजमल ने बिलकिस बानो पर हाल ही में किए गए फैसले का स्वागत भी किया।

जब उनसे सवाल किया गया कि वे क्यों इतना कठोरी से कांग्रेस पर हमला करते हैं, तो अजमल ने कहा कि बीजेपी हमारा सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी है, लेकिन कांग्रेस से भी हमें कुछ असंतोष है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने देश में 55 सालों तक सत्ता में रहा है, लेकिन असम में बाढ़ की समस्या को हल नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय को जो समस्याएं हैं, वो सभी कांग्रेस के द्वारा उत्पन्न की गई हैं। उन्होंने इसका उदाहरण दिया कि उनकी शिक्षा से लेकर रोजगार तक की समस्याओं का समाधान किया नहीं गया।

Bilkis Bano Case दोषियों की सजा माफी क्यों हुई रद्द, सुप्रीम कोर्ट ने गुजरात सरकार का फैसला पलटा

इंडिया गठबंधन में शामिल नहीं किए जाने पर Badruddin Ajmal ने कहा कि हालांकि हमें अभी तक इस गठबंधन में जगह नहीं मिली है, लेकिन जब हमें चुनाव में तीन सीटें मिलेंगी, तो यह गठबंधन हमारी ओर मोड़ जाएगा और हमें शामिल कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी 2005 में शुरू की गई थी। यूपीए गठबंधन के अंतर्गत होने के बावजूद, वे कांग्रेस के मुद्दों को अग्रसर करते रहेंगे। अजमल ने कहा कि कांग्रेस ने राज्य में मुस्लिम नेता बनने का मार्ग नहीं दिखाया है।

सुप्रीम कोर्ट ने बिलकिस बानो के दोषियों की सजा माफी को रद्द कर दिया है। इस फैसले का एआईयूडीएफ के चीफ ने स्वागत किया है। उन्होंने बताया कि वे सुप्रीम कोर्ट और उसके चीफ जस्टिस पर पूरा भरोसा रखते हैं। उन्हें न्याय की आशा थी, और यह फैसला उनकी उम्मीदों को पूरा करता है। बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत का यह फैसला न्याय और मानवता की जीत है। उन्होंने यह भी कहा कि फैसला थोड़ी देर से आया, लेकिन सही आया है।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी मणिपुर से लेकर महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई तक ‘भारत जोड़ो न्याय’ यात्रा कर रहे हैं। इस यात्रा को लेकर Badruddin Ajmal ने कहा कि राहुल गांधी का स्वागत किया जाएगा। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि पिछली ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का परिणाम तीन राज्यों के चुनावों में देखा गया है। उनके अनुसार, राहुल गांधी यहां जाएं या न जाएं, लेकिन वे यहां की जीत नहीं पा सकते। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लोग उन्हें वोट नहीं देंगे।

अजमल ने कहा कि राहुल गांधी इंडिया गठबंधन के प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में हो सकते हैं, लेकिन इस गठबंधन में दलों के बीच में तनाव चल रही है। उन्होंने बताया कि वे यूपीए में 15 साल तक रहे हैं और सोनिया गांधी के साथ उनके अच्छे रिश्ते हैं, लेकिन राहुल के साथ ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का मुख्य उद्देश्य केवल कांग्रेस में चमक लाना है, वोट लाने का नहीं।

Badruddin Ajmal  ने हाल ही में मुस्लिम समुदाय को अपील की थी कि वे 20 से 26 जनवरी तक अपने घरों में रहें। उन्होंने इस बारे में कहा कि देखा गया है कि कैसे ट्रेन में मुस्लिमों को निशाना बनाया गया और उन्हें आरपीएफ के जवानों ने चुन-चुनकर गोली मारी। उन्होंने यह बात इसलिए कही थी ताकि मुस्लिम समुदाय सुरक्षित रह सके। वह ने उदाहरण दिया कि कारसेवक भी जब गुजरेंगे तो वे मुस्लिमों को निशाना बना सकते हैं। इसलिए, उन्होंने लोगों से यह अपील की है कि इन बातों को ध्यान में रखते हुए घरों में रहें।

Badruddin Ajmal कांग्रेस के लिए मुस्लिम सिर्फ वोट बैंक, बदरुद्दीन अजमल
Badruddin Ajmal कांग्रेस के लिए मुस्लिम सिर्फ वोट बैंक, बदरुद्दीन अजमल

एआईयूडीएफ के चीफ ने सीएए को लेकर कहा है कि इसका चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ेगा। यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर बदरुद्दीन अजमल ने कहा है कि क्या सरकार इससे सभी को एक ही तरीके से हांकने की कोशिश करेगी। भारत विविधताओं से भरा हुआ देश है, और उनका मानना है कि इस तरह का एक ही कानून लागू करना मुश्किल हो सकता है। उन्होंने इसका विरोध किया है।

Badruddin Ajmal ने जवाब दिया कि 2024 में वे वही गठबंधन समर्थन करेंगे जो उन्हें उन तीन सीटों पर जीत दिलाएगा, जहां पहले भी उन्हें समर्थन मिला था। उसके बाद, वे कांग्रेस और इंडिया गठबंधन को समर्थन देंगे। उन्होंने ईवीएम (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) को लेकर चिंता जताई और बताया कि लोगों ने इसमें गड़बड़ी का दावा किया है। उनकी मांग थी कि सुप्रीम कोर्ट को इसे जांचने की चुनौती देनी चाहिए।

The Press Note

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *