February 29, 2024

The Press Note

A News Blog

Ayodhya PM Modi अयोध्या के नाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सौगात

1 min read
Ayodhya PM Modi अयोध्या के नाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सौगात

Ayodhya PM Modi अयोध्या के नाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सौगात

PM Modi Ayodhya : पीएम ने मीरा की बनाई चाय पी और कहा चाय मीठी कर दी मैं भी चाय बनाता था।

Ayodhya PM Modi पीएम नरेंद्र मोदी का अयोध्या रोड शो काफी रोचक रहा। अचानक उनका काफिला राजघाट की ओर मुड़ गया और मीरा मांझी के आवास पर रुक गया। मीरा के परिवार को अपने घर पीएम मोदी का स्वागत करते देख कर बहुत ख़ुशी हुई। मोदी जी ने मीरा के हाथ की चाय पी और कहा, “चाय तो मीठी कर दी, मैं भी पहले चाय बनाया करता था।” उन्होंने बच्चों को प्यार से गले लगाया और कहा, “अगली बार जब आऊँगा, तब जरूर यहाँ का खाना खाऊँगा।” मोदी जी का यह अचानक आगमन मीरा के परिवार के लिए एक यादगार पल बन गया।

मीरा के पति सूरज मांझी के चेहरे पर खुशी की लाली साफ़ झलक रही थी। उन्होंने कहा, यकीन नहीं हो रहा कि प्रधानमंत्री जी हमारे छोटे से घर में आए! लग रहा है जैसे सपना सच हो गया हो। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री जी ने पूछा था कि सरकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं। मैंने बताया कि हमें राशन, आवास और उज्जवला योजना का लाभ मिल रहा है। जब प्रधानमंत्री जी ने पूछा कि आयुष्मान कार्ड बनवाया है कि नहीं, तो मैंने कहा नहीं। तब उन्होंने कहा कि जल्दी बनवा लेना।

बेटी नैना से पूछा कि नाम क्या है, स्कूल जाती हो कि नहीं। छोटे बेटे नैतिक को गोद में बिठाकर प्यार से दुलारा। हमने चाय परोसी थी, प्रधानमंत्री जी ने कहा कि चाय बहुत स्वादिष्ट है लेकिन थोड़ी ज्यादा मीठी है। मुझे भी चाय बनाना पसंद है। लगभग 15 मिनट तक वे हमारे घर में रहे। हमें उनके आने की खबर सिर्फ एक घंटे पहले मिली थी।

Ayodhya PM Modi अयोध्या के नाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सौगात
Ayodhya PM Modi अयोध्या के नाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सौगात

मोदी जी के आगमन से धनीराम मांझी के परिवार की किस्मत ही बदल गई! पहले तो ये परिवार एक जर्जर मकान में रहता था। सूरज मजदूरी करके घर चलाता था जबकि उसके पिता धनीराम मांझी गोताखोरी करते थे। लेकिन 2021 में पीएम आवास योजना के तहत इन्हें नया मकान मिला। अब इस परिवार को पक्की छत मिल गई है, मोदी जी की कृपा से। और यही नहीं, मोदी जी ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भी इन्हें आमंत्रित किया। वहां जाकर उन्होंने स्थानीय पार्षद वीरचंद मांझी की बेटी स्वाती के साथ भी सेल्फी ली। सूरज के छोटे भाई अनुज ने तो मोदी जी के लिए राम मंदिर की पेंटिंग भी बनाई थी। मोदी जी ने पेंटिंग देखकर उसकी बहुत प्रशंसा की और अपने हाथों से उस पर ‘वंदे मातरम’ लिखकर आटोग्राफ भी दिया! इस परिवार को मोदी जी का आशीर्वाद मिला है। उनकी कृपा से इनका जीवन ही बदल गया है। जय हो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बलिया में उज्ज्वला योजना की शुरुआत को याद किया। उन्होंने कहा कि जब इस योजना की शुरुआत हुई थी तो विपक्ष ने इसका मज़ाक उड़ाया था। लेकिन आज यह योजना करोड़ों माताओं और बहनों के जीवन को बदल चुकी है। इसके बाद प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया पर अपना संदेश शेयर किया  “भगवान श्री राम की नगरी में बहन मीरा मांझी के घर जाना एक अविस्मरणीय अनुभव रहा। मैंने मूल पैराग्राफ को अधिक आकर्षक बनाने का प्रयास किया है, जबकि मूल अर्थ बरक़रार रखा है। कृपया बताएं कि यह कितना प्रभावी है।

महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अयोध्या को ऐतिहासिक दिन दिया। उन्होंने अयोध्या में एयरपोर्ट का शुभारंभ किया और इसे महर्षि वाल्मीकि के नाम पर रखा। यह अयोध्या के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। इसके बाद प्रधानमंत्री निषाद राज के घर पहुंचे। वहां उन्होंने लोगों से श्रीराम ज्योति जलाने का आह्वान किया। पीएम ने कहा कि हम सभी को मिलकर भारत को विकसित बनाना है। पीएम मोदी की इन पहलों से अयोध्या एक नया रूप ले रहा है। ये कदम धार्मिक और विकास की दिशा में मील का पत्थर साबित होंगे। पूरे देश में इन पर चर्चाएं हो रही हैं। कुछ लोग इन्हें धार्मिक कदम बता रहे हैं तो कुछ इनके राजनीतिक पहलू पर भी चर्चा कर रहे हैं। लेकिन निश्चित तौर पर ये अयोध्या के विकास को गति देंगे और पर्यटन को बढ़ावा देंगे।

रामलला के विराजमान होने की तिथि तो 22 जनवरी 2024 तय है, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने पहले ही 30 दिसंबर से अयोध्या में उत्साह का माहौल बना दिया है। उन्होंने अयोध्या वासियों को कई तोहफे देकर देशभर में भक्ति की लहर दौड़ा दी है। शनिवार को पीएम मोदी खुद अयोध्या पहुंचे, और राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा से पहले अयोध्यावासियों को और भी उपहार दिए। पीएम मोदी ने अपनी उपस्थिति और भेंट-वस्तुओं से अयोध्या में एक अलौकिक उत्साह और आनंद का वातावरण बना दिया है। उन्होंने अयोध्या को भव्य राम मंदिर के निर्माण से पहले ही एक तीर्थस्थल का रूप दे दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *